28 May 2009

भारत के निर्यात में अप्रैल में 33% की गिरावट आई: एफआईईओ- मई 28, 2009

हिन्दी अनुवाद:
बुधवार को फेडरेशन भारतीय निर्यात संगठनों के (एफआईईओ) के ए सक्थीवेल अध्यक्ष ने कहा की भारत का निर्यात अप्रैल में दुनिया की निरंतरता-व्यापक मंदी की वजह से गिर गया और तीसरी विदेशों में स्थानीय वस्तुओं की माँग को चोट की वजह से गिरावट आई। उन्होंने यह भी कहा कि निर्यात के क्षेत्र मे ंनुकसान आने पर इस वर्ष मार्च को समाप्त करने के लिए 5 लाख तक पहुँच चुके हैं।

उन्होने यह भी कहा की के आने वाले बजट के लिए अतिरिक्त संस्था में सरकारी उपायों के लिए आय शुल्क और अधिक ब्याज पर आर्थिक सहायता में बैंक और बढे हुए निवेश शुल्क अवलोकन किया जाए। 2008/09 के दौरान हाल ही में मार्च में तीसरे सरकारी आंकड़ों के लिए भारत के निर्यात में 3.4 प्रतिशत के लिए $ 168.7 अरब द्बारा में पुरे साल' के विकास में गिरावट आई। निर्यात के संक्षित रूप ने कारखाने उत्पादन और समस्त आर्थिक विकास को प्रभावित किया है।

English Translation:

The exports of India may have fallen by a third in April due to the continuation of world-wide slump that hurt the demand overseas for local goods, said A. Sakthivel, president of the Federation of Indian Export Organisations (FIEO) on Wednesday. He also said that the job losses in the export sector may have reached 5 million for the year ended March.

He also added that the body will seek government relief in terms of relief in income tax as well as more interest subsidy on bank loans and enhanced input tax credit, in the forthcoming budget.The recent government data showed that the exports of India fell by a third in March, pulling down the full year''s growth to 3.4 percent at $168.7 billion during 2008/09. The contraction of exports have impacted the factory output and the overall economic growth.

No comments:

Post a comment