14 December 2009

फिनिश इस्पात कंपनी भारत की योजना को पुनर्जीवित कर सकते हैं- दिसम्बर 14, 2009


हिन्दी अनुवाद:

फिनिश स्टेनलेस स्टील ओउतोकुम्पू के प्रमुख ने कहा कि वाणिज्य मंत्रालय ने फैसला लिया की मिश्र धातु इस्पात के कुछ उत्पादों के आयात पर उद्ग्रहण विरोधी डंपिंग कर्त्तव्य नही लेंगे, इसकी भारत में 300 करोड़ रु निवेश योजना को फिर से जीवित कर सकते हैं।

हालांकि, भारतीय वाणिज्य मंत्रालय, स्टेनलेस स्टील उत्पादों पर विरोधी डंपिंग कर्त्तव्य पर अंतिम सिफारिशों में, सूची में से स्टेनलेस स्टील वस्तुओं के कुछ ग्रेड और आकार का आयात शामिल नहीं है।

इसलिए, ओउतोकुम्पू के उप राष्ट्रपति विकास बाजार के लिए केल हंसेन ने कहा की वे अब हमारी योजनाओं को पुनर्जीवित करेंगे देश में एक सेवा केन्द्र योजना को स्थापित करके।

English Translation:

Finnish stainless steel major Outokumpu stated that as the commerce ministry has decided not to levy anti-dumping duties on imports of certain products of the alloy steel, it may revive its plan to invest around Rs 300 crore in India.

However, the Indian commerce ministry, in its final recommendations on anti-dumping duty on stainless steel products, has excluded imports of certain grades and sizes of stainless steel items from the list.

Hence, they may now look at reviving our plans to set up a service centre in the country stated Outokumpu vice-president for growth markets Kell Hansen.

No comments:

Post a comment