26 May 2009

बाजार के शुरूआती व्यापार में स्थिर झुकाव- मई 26, 2009

हिन्दी अनुवाद:
बाजार आज सकारात्मक स्तर पर खुला और अचानक मिश्रित संकेत के कारण से एशियन बाजार में स्थिर झुकाव उत्तपन हुआ। अमेरिकी बाजार स्मारक दिवस के पालन के कारण बंद हुए हैं। व्यापार के वॉल स्ट्रीट को मंगलवार से फिर से शुरू करेंगे।

बीएसई मिड कैप इंडेक्स व्यापार में अधिक से अधिक 1% लाभ के साथ व्यापार कर रहे है और बीएसई स्मॉल कैप इंडेक्स में अधिक से अधिक 2.5% लाभ के साथ व्यापार कर रहे है।

टिकाऊ उपभोक्ता वस्तुए, धातु, आईटी, फार्मा और अचल धन शुरूआती कारोबार में महत्वपूर्णता से खरीद हित को देख रहे है। हालांकि, ऑटो और तेल और गैस के भण्डार के आधार में हानि हुई।

बीएसई सेंसेक्स व्यापार सीमांत रूप से 2.91 बिन्दु और (0.02 प्रतिश्त) पर 13,916.13 से ऊपर है और एनएसई निफ्टी व्यापार में 5.60 बिन्दु और (0.13 प्रतिश्त) पर 4,231.95 से कम है।

बीएसई मिड कैप में 58.39 बिन्दु और (1.19 प्रतिश्त) पर 4,948.54 और बीएसई स्मॉल कैप में 135.34 बिन्दु और (2.34 प्रतिश्त) पर 5,924.77 की वृद्धि हुई।

यह समस्त विस्तृत शेष सकारात्मक बाजार इस कारण है क्योकि अग्रिम स्टॉक 1773 और गिरते हुए स्टॉक 247 और बीएसई पर अपरिवर्तित स्टॉक 16 है।

English Translation:

The markets today opened positive and suddenly turned volatile amid mixed cues from the Asian markets. The US markets are shut on account of Memorial Day observance. Trade on the Wall Street will resume from Tuesday.

The BSE Mid Cap index is now trading with a gain of more than 1% and the BSE Small Cap index with a gain of more than 2.5%.

The Consumer Durables, Metal, IT, Pharma and Realty are witnessing significant buying interest in the early trade. However, Auto and Oil & Gas stocks lost ground.

The BSE Sensex is trading marginally up by 2.91 points or (0.02%) at 13,916.13 and the NSE Nifty is trading lower by 5.60 points or (0.13%) at 4,231.95.

The BSE Mid Cap increased by 58.39 points or (1.19%) to 4,948.54 and the BSE Small Cap grew by 135.34 points or (2.34%) to 5,924.77.

The Overall market breadth remains positive as 1773 stocks are advancing while 247 stocks are declining and the 16 stocks remained unchanged on BSE.

No comments:

Post a comment