13 June 2009

गीतांजलि रत्न - आइविडा टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड में विक्रय- जून 13, 2009

हिन्दी अनुवाद:
गितांजली रत्न लिमिटेड ने यह सूचित किया है की कम्पनी ने अपने नीवेश को आइविडा प्रौद्योगिकी की प्राइवेट लिमिटेड में बेच दिया, जो निगमित वर्ष 2007 की मांग द्बारा सोफ्ट्वेयर, प्रौद्योगिकी और दूरसंचार व्यापार, के लिए 100 प्रतिश्त सहायक की कम्पनी है। इस निराशाजनक प्रदर्शन में निष्पादन के लिए प्रौद्योगिकी क्षेत्र और कम्पनी का लक्ष्य यह है की करोडो कषेत्रो के लिए व्यापार का ध्यान बढे हुए का संचय की और केंद्रित करे इस प्रमुख कारण के पश्चात यह तय किया गया है की सम्पूर्ण दांव के लिए आईविडा प्रौद्योगिक प्राइवेट लिमिटेड को भी उपस्थित किया जाए।

English Translation:

Gitanjali Gems Ltd has informed that the Company has sold its investment in Ivida Technologies Pvt Ltd, which was incorporated in the year 2007 to deal in software, technology and telecom business, as a 100% subsidiary of the Company.The gloomy performance of technology sector as well as Companys intention to focus over core area of business is the main reason behind the decision to hiving-off its entire stake of Ivida Technologies Pvt Ltd.

No comments:

Post a comment