25 July 2009

जून उत्पादन में वृद्धि के साथ वसूली के इनफ्रा लक्षण को भी देखा गया- जुलाई 25, 2009

हिन्दी अनुवाद:
बुनियादी ढांचे और कॉर्पोरेट जगत के क्षेत्र में एक स्थिर धीमी गति की पुनरुद्धार के लिए सरकार ने कहा की प्रयोजन के कारण, भारत' के छह प्रमुख बुनियादी ढांचा उद्योगों को जून के महीने के दौरान विकास दर में वृद्धि देखी जायेगी। जून में मुख्य क्षेत्र में 6.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जिसमे की मई में 2.8 प्रतिशत विकास दर को देखा पर एक अच्छा परिवर्तन भी हुआ।

हालांकि इस छह उद्योगों के मजबूती के कारण 12.8 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और सीमेंट और कोयला में 14.7 प्रतिशत के बढोतरी को देखा गया।

एक मजबूत स्थाई क्षेत्र के विकास में कहा गया है कि अर्थव्यवस्था में निवेश बढ़ को बढाया जाए। इसलिए, अर्थशास्त्री कि अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत को देखा गया और रिजर्व बैंक अपनी नीति दरो को अपरिवर्तित छोड़ने की अनुमति को अपना रहे है।

English Translation:

Due to the government''s push for infrastructure and a slow but stable revival in corporate zone, India''s six core infrastructure industries have seen an increase in growth during the month of June. The core sector grew by 6.5% in June, which is a good improvement over the 2.8% growth seen in May.

However the strongest of the six industries was coal which grew 14.7% and cement which saw an increase of 12.8%.

A stronger core sector growth states that investment in the economy is starting to rise. Therefore, economists say that signs of revival in the economy will allow the RBI to leave its policy rates unchanged.

No comments:

Post a comment