21 September 2009

कॉर्पोरेट भारत ने ऋण बाजार में 40 करोड़ रुपये से वृद्धि की - सितम्बर 21,2009

Hindi News About Corporate India raises Rs 40 K cr in debt market हिन्दी अनुवाद :
आधे से अधिक निधि वित्तीय संस्थाओं द्वारा जुटाए जा रही है, भारत इंक निधि ऋण के प्राइवेट प्लेसमेंट के जरिए चालू वित्त वर्ष के Q1 में 42% से 40,300 करोड़ रुपये की वृद्धि कर रहा है। तथापि, अप्रैल से वर्तमान वित्तीय वर्ष की जून तिमाही में रुपए के निजी स्थान के आधार पर 40,300 करोड़ रुपये ऋण के माध्यम से एक जुटाना, 42% तक 28,385 करोड़ रुपए से देखा पिछले वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में उठाया। इसके अलावा, मार्ग के माध्यम से सबसे बड़ा जमावड़ा वित्तीय संस्थाओं और बैंकों से आया है और 67 से भी अधिक संस्थाओं और व्यापारिक घरानों ने जून तिमाही के दौरान पूरी राशि में वृद्धि की है। इसके अतिरिक्त, कोष जुटाने के मामले में निजी क्षेत्र ने सार्वजनिक क्षेत्र को हरा दिया जहां इनकी जुगत 50% द्वारा 11,184 करोड़ रुपये से 16,753 करोड़ रूपये बढ गई है।

English Translation:

With more than half of the fund being mobilized by financial institutions, India Inc''s fund raising through private placement of debt increased 42% to Rs 40,300 crore in the Q1 of the current fiscal. Moreover, the largest mobilization through the route came in from financial institutions and banks with more than 67 institutions and corporate houses raising the full amount during the June quarter. Additionally, private sector beat public sector in terms of fund raising where its mobilization increased by 50% from Rs 11,184 crore to Rs 16,753 crore.

No comments:

Post a comment