3 November 2009

बाजार तेजी से निम्न स्तर पर खुला- नवम्बर 03, 2009

Hindi News About Markets Opened Lower Research हिन्दी अनुवाद:
बाजार आज तेजी से निम्न स्तर पर खुला इसके बाद लंबे सप्ताहांत के बाद यह एशियन बाजार के पद के साथ खुला। शुरुआत में एनएसई निफ्टी 4700 अंक और बीएसई सेंसक्स व्यापार 15,850 अंक से नीचे फिसल गई थी। शुरुआत में ऑटो और फार्मा चुनें पूंजीगत वस्तु भंडार मांग के साथ व्यापार कर रहे थे। हालांकि, रियल्टी, मेटल और आईटी शेयर दबाव में है। शुरुआत में व्यापक बाजार के क्रय में दवाब को देखा गया इस कारण बीएसई मिड कैप इंडेक्स अधिक से अधिक प्रत्येक 0.5% कटौती के साथ व्यापार कर रहे है और बीएसई स्मॉल कैप इंडेक्स अधिक से अधिक 1% हानि के साथ व्यापार कर रहे थे।

बीएसई सेंसेक्स 79.88 अंक (या 0.50%) पर 15,816.40 से कम है और एनएसई निफ्टी कारोबार 35.85 अंक (या 0.76%) पर 4,675.85 से कम है।

बीएसई मिड कैप 52.46 अंक (या 0.87%) पर 5,961.84 से कम है और बीएसई स्मॉल कैप व्यापार 96.91 अंक (या 1.37%) पर 6,961.81 से कम है।

यह समस्त विस्तृत नकारात्मक बाजार इस कारण है क्योकि अग्रिम स्टॉक 643 गिरते हुए स्टॉक 984 और बीएसई पर शेष अपरिवर्तित स्टॉक 37 थे।

English Translation:

The markets opened sharply lower after a long weekend in line with the Asian markets. The NSE Nifty has slipped below the 4700 mark and the BSE Sensex below the 15850 mark in the early trade. The Pharma, Auto and select Capital Goods stocks are in demand in the early trade. While, Realty, Metal and IT stocks remained under pressure. The broader market are also witnessing the selling pressure in the opening trade as the BSE Mid Cap index is now trading with a cut of more than 0.5% and the BSE Small Cap index with a loss of more than 1%.

The BSE Sensex is trading lower by 79.88 points or (0.50%) at 15,816.40 and the NSE Nifty is trading lower by 35.85 points or (0.76%) at 4,675.85.

The BSE Mid Cap is trading lower by 52.46 points or (0.87%) at 5,961.84 and the BSE Small Cap is trading lower by 96.91 points or (1.37%) to 6,961.81.

The Overall market breadth is negative as 643 stocks are advancing while 984 stocks are declining and the 37 stocks remained unchanged on BSE.

No comments:

Post a comment