28 May 2010

India's Q1 Gold Demand Surges To 193.5 Tonnes : भारत में सोने की मांग तिमाही 1 में 193.5 टन बढ़ गया : 28th May


हिन्दी अनुवाद

विश्व स्वर्ण परिषद ने बताया है कि भारत में सोने की मांग 31 मार्च 2010 को समाप्त तिमाही 1 में 193.5 टन बढ़ गया है, पिछले साल के 24.2 टन की तुलना में। भारत का ज्वैलरी मांग 37.7 टन से 147.5 टन बढ़ा है, जबकि निवेश की मांग 46 टन हुआ है। इसके अलावा, कुल मांग दोनों के आभूषण होते हैं और साथ ही निवेश की मांग। भारत में सोने की कीमत में वृद्धि, डॉलर के मुकाबले रुपया की भाव में कमी की वजह से अधिक है। हालांकि, वैश्विक बाजार में मूल्य वृद्धि के लिए मुख्य कारण कमजोर यूरो के मद्देनजर यूरोपीय बाजारों में भारी निवेश की मांग है।

English Translation:

The World Gold Council has reported that India's total gold demand has increased to 193.5 tonnes in the Q-1 ending 31st March 2010 as against 24.2 tonnes in year ago. India's Jewellery demand surged to 147.5 tonnes from 37.7 tonnes, while investment demand has jumped to 46 tonnes. Besides, the total demand consists of both jewellery as well as investment demand. In India the appreciation in the gold price is more because of the depreciation of rupee against dollar. However, the main reason for the price rise in the global market is heavy investment demand in the European markets in the wake of weakening euro.

No comments:

Post a comment