14 September 2010

ING Vysya Bank's Board Has Shifted GMR Group : आईएनजी वैश्य बैंक के बोर्ड ने जीएमआर समूह स्थानांतरित कर दिया है : 14th September

हिन्दी अनुवाद:

आईएनजी वैश्य बैंक के बोर्ड प्रमोटर वर्ग से जीएमआर ग्रुप गैर प्रमोटर श्रेणी में स्थानांतरित कर दिया है। निर्णय छोटे शेयर अर्थात् पर आधारित है 1 (केवल 0.97%), किसी भी निहित करने के लिए बैंक के नियंत्रण के अधिकार के अभाव, और किसी भी पात्रता की अनुपस्थिति भी निर्देशकों के बोर्ड पर एक की स्थिति पकड़ के लिए। बीएसई पर जून तिमाही के शेयर होल्डिंग पैटर्न के अनुसार उपलब्ध है, जीएमआर, जीएमआर इंडस्ट्रीज, जीएमआर एस्टेट (0.44%) और जीएमआर गुण (0.20%), सहित समूह की कंपनियों, बैंक के प्रमोटर समूह की कंपनियों के बीच में थे। डच वित्तीय समूह आईएनजी ने 20 प्रतिशत से 44 प्रतिशत तक बैंक में अपनी होल्डिंग मे वृद्धि की 2002 में एक जीएमआर समूह से 24 प्रतिशत हिस्सेदारी प्राप्त करके।

English Translation:

ING Vysya Bank's board has shifted GMR Group from promoter category to non-promoter category. The decision is based on the small shareholding i.e, below 1% (0.97% only), the absence of any vested right to control the Bank, and the absence of any entitlement to even hold a position on the board of directors. As per the June quarter shareholding pattern available on the BSE, GMR group firms, including GMR Industries, GMR Estate (0.44 %) and GMR Properties (0.20% ), were among the promoters group companies of the bank. The Dutch financial group ING had raised its holding in the bank from 20 percent to 44 percent by acquiring a 24 percent stake from the GMR group in 2002.

No comments:

Post a comment