2 August 2011

India To Initiate Price Negotiations : भारत ने मूल्य वार्ता आरंभ की : 2nd August

हिंदी अनुवाद:
भारत ने अगले पांच वर्षों के लिए , लौह अयस्क के निर्यात के लिए , राष्ट्रीय खनिज विकास निगम (एनएमडीसी) द्वारा मंत्रिमंडल से मंजूरी प्राप्त करने के बाद ,लौह अयस्क के निर्यात की अनुमानित मात्रा पर जापान के साथ मूल्य वार्ता शुरू करने का फैसला किया है |

एनएमडीसी को नए पांच साल के अनुबंध के लिए ,चालू वित्त वर्ष में 3.3 करोड़ टन लौह अयस्क की निर्यात की मंजूरी मिल गई है | पिछले अनुबंध की अवधि 31 मार्च, 2011 को समाप्त हो गयी थी |  हालांकि  , एनएमडीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक राणा सोम ने लोकायुक्त की रिपोर्ट में किए गए सभी आरोपों का खंडन किया है |

ऑस्ट्रेलिया और ब्राजील के बाद,भारत लौह-अयस्क के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ताओं में से एक है | भारत ज्यादातर चीन को लौह-अयस्क निर्यात करता है जो दुनिया के सबसे बड़े इस्पात उद्योग है |

English Translate :
India has decided to start price negotiations with Japan for exports of iron ore by National Mineral Development Corporation (NMDC) after receiving approval from Cabinet on estimated quantity of iron ore exports for the next five years.

NMDC has got approval to export 3.3 million tonnes of iron ore in current fiscal, as a part of new five year contract .Its last contract period ended on March 31, 2011.However, Rana Som, Chairman and Managing Director of NMDC, denied all charges made in Lokayukta’s report .

India is one of the largest suppliers of iron ore after Australia and Brazil . India mostly exports iron ore to China which has the world’s largest steel industry.

No comments:

Post a comment