1 October 2011

CIL Looking Ahead To Revise Regulated Coal Price In 3 Months : सीआईएल ने आगे देख के 3 महीने में विनियमित कोयले की कीमत में संशोधन किया : 01-10-11

हिन्दी अनुवाद :

कोल इंडिया ने (सीआईएल) विनियमित अगले तीन महीने में प्रमुख उद्योगों के लिए मतलब कोयले की कीमत की समीक्षा करने की संभावना है। अगले तीन महीने के भीतर कंपनी के लिए वेतन वृद्धि प्रभाव के संकेत प्राप्त करने में सक्षम हो सकता है, तो यह विनियमित कोयले की कीमत की कीमत में दिखेगा। कोर क्षेत्र के खातों के लिए नियमित कोयला सीआईएल के लिए कुल कोयले का लगभग 77% के लिए बंद कर लिया। दुनिया का सबसे बड़ा खान में काम करनेवाला ए और बी को छोड़कर सभी ग्रेड के लिए कोयले की कीमत ले जायेगे।

फरवरी में, ग्रेड ए और बी कोयले की कीमत 150% और गैर विनियमित उपभोक्ताओं के लिए कुछ अन्य श्रेणियों के द्वारा बढ़ा था। विनियमित क्षेत्र के लिए कोयला कीमत पिछले दो वर्षों के लिए नहीं छुआ था।

English Translation :

Coal India (CIL) is likely to review the price of regulated coal meant for core industries in the next three months. Within the next three months the company will be able to get indications of the wage hike impact, so it will look into price of regulated coal price. Regulated coal for the core sector accounts for almost 77% of total coal off take for CIL. The world's largest miner will take up coal price for all grades except A and B.

In February, the price of grade A and B coal was hiked by 150% and some other grades for non-regulated consumers. Coal price for the regulated sector was not touched for the last two years.

No comments:

Post a comment