24 April 2009

रूपये में 42 पैसे की बढोतरी, और 49.92 पर समाप्ति- अप्रैल 24, 2009

हिन्दी अनुवाद:
23 अप्रैल को भारतीय रुपया में लाभ के विरुद्ध डॉलर के पीछे एक अच्छी विदेशी फंड के अंतर्वाह के अपेक्षा सेंसक्स में वृद्धि हुई। इस इंटर बैंक की विदेशी मुद्रा (विदेशी मुद्रा) बाजार में काफी सक्रिय व्यापार में घरेलू मुद्रा का मुल्ये 50.45/46 पर 50.34/35 था, लेकिन एक डॉलर के बाद में मुल्ये 49.92/94 पर बंद हुआ और 42 पैसे की बढ़त दिखाई दी। रुपया 49.92 और 50.50 की एक सीमा में चला गया। वैश्विक बाजार में अन्य मुद्राओं की तुलना में डॉलर की कमजोरी ने भी रुपया में मूल्य वृद्धि का मुख्य कारक था।

इस विदेशी मुद्रा डीलरों के अनुसार, रूपये के बाउंस होने के बाद व्यापार स्तर के शुरुआत के लिए स्थानीय स्टॉक के प्रारंभ व्यापार में बदलाव के कारण व्यापार दूसरी और झुक गया। सेंसेक्स ने गुरूवार को 317.45 अंक या 2.93 प्रतिशत में पिछले तीन दिनों के लिए घाटे का प्रदर्शन करने के बाद तेजी को बरामद किया। इस बीच, भारतीय रिजर्व बैंक के 50.22 रुपये में अमेरिकी डॉलर के लिए संदर्भ दर 65.47 रुपए समय यूरो में तय किया।

English Translation:

The Indian rupee on April 23 gained against the dollar on the back of expectations of a good foreign funds inflow after the rise in the Sensex. The domestic currency in the fairly active trade at the Interbank Foreign Exchange (forex) market, resumed weak at 50.45/46 a dollar from its earlier close of 50.34/35 but later recovered to close at 49.92/94 and showed gains of 42 paise. The rupee moved in a range of 49.92 and 50.50. The weakness of the dollar against other currencies in the global markets was also the main factor for appreciation in the rupee.

As per the forex dealers, the rupee bounced back soon after the start of the trading session as the local stocks turned resilient in early trade. The Sensex recovered sharply by 317.45 points or 2.93 per cent on Thursday after showing losses for the last three days. Meanwhile, the Reserve Bank of India fixed the reference rate for the US dollar at Rs 50.22 while the euro at Rs 65.47.

No comments:

Post a comment