13 July 2009

जेएसडब्लू इन्फ़रा ने आईपीओ के माध्यम से 1000 करोड़ रुपए एकत्रित किए- जुलाई 13, 2009

हिन्दी अनुवाद:
सज्जन जिंदल, के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक जेएसडब्लू स्टील ने देखा की बड़े और यह लाइन अप पूंजीगत व्यय की दशक के लिए 50,000 करोड़ रुपए का पूंजीगत व्यय किया गया। जेएसडब्लू बुनियादी ढांचा और तर्कगडित ने अपने सभी आईपीओ योजना में 1000 करोड़ रुपए के आदेश को विस्तृत के लिए अपने दीर्घकालिक योजनाओं के हिस्से के रूप में एकत्रित को पुनर्जीवित करने के लिए तैयार है। "जेएसडब्लू समूह के सीईओ के कैप्टन बीवीजेके शर्मा ने कहा हम एक आईपीओ के लिए जाने जायेंगे।"

इस आईपीओ आय भाग निधि में रुपये की केपेक्स जो अगले दो तीन वर्षों के लिए निर्धारित है 2000 करोड़ रुपये करने के लिए उपयोग किए जायेंगे। इस आय के साथ ही बंदरगाहों, रेलवे लाइनों और योजना सह जहाज मरम्मत यार्ड सड़क स्थापित करने के लिए इसको खर्च किया जाएगा। इसके अलावा, कंपनी जयगढ़, में नई पोर्ट को जल्द ही महाराष्ट्र में आयोजित की जायेगी।

English Translation:

Sajjan Jindal, vice-chairman and MD of JSW Steel is eyeing big and for this he has lined up capital expenditure of over Rs 50,000 crore for the decade. JSW Infrastructure and Logistics is all ready to revive its IPO plans in order to mop up to Rs 1000 crore as part of its long term plans for expansion. "We are on a continuous evaluation mode. There will be internal accruals and we will take call as we get into next phase. We will go for an IPO," said Capt B V J K Sharma, CEO of JSW Group.

The IPO proceeds would be utilised to part fund the capex of Rs 2,000 crore, which is set for next two-three years. The proceeds would be spent to set up roads as well as ports, railways lines and rig cum ship repair yards. Moreover, the company will soon commission its new port in Jaigarh, Maharashtra.

No comments:

Post a comment