13 August 2009

कॉफी के निर्यात को दिसंबर से आरंभ किया जाएगा- अगस्त 13, 2009

हिन्दी अनुवाद:
भारत कॉफी बोर्ड के अध्यक्ष जीवी कृष्णा राउ ने कहा की कॉफी के निर्यात में इस साल दिसंबर से ही नई फसल बाजार के आगमन में एक पुनरुत्थान के लक्षण प्रकट होने की संभावना है। निर्यात अगले कुछ महीनों में कमी आने पर, पिछले वर्ष की तुलना में 20 प्रतिशत की गिरावट को दर्ज किया गया।

भारत में, पिछले वर्ष की तुलना में कॉफी सीजन में (अक्टूबर 2007 से सितंबर 2008) के दौरान 220,030 टन का निर्यात किया गया। इस बार, 11 अगस्त को निर्यात 138044 टन पर स्थिर था। पिछले साल निर्यात के लिए सिर्फ एक महीने के साथ उपस्थित में कॉफी वर्ष के लिए इसकी समाप्ति किए जाने की तुलना में 20-25 फीसदी गिरावट आएगी अब यह स्पष्ट हो गया है। रूसी संघ के "मांग और यूरोपीय देशों के पिछले कुछ महीनों में आर्थिक मंदी की वजह से यह गिर गया है।

English Translation:

Coffee exports is likely to reveal signs of a revival only from December this year when the new crop arrives in the market, said G V Krishna Rau, chairman, Coffee Board of India. Exports will continue to be low in the next few months, registering a drop of 20 per cent over last year.

India exported 220,030 tonnes, during the last coffee season (October 2007 - September 2008). This time, till August 11, exports stood at 138,044 tonnes. Now it has become ever more clear that exports will fall 20-25 per cent compared to last year with just another month to go for the present coffee year to conclude. "Demand from the Russian Federation and European countries has fallen due to economic slowdown in the last few months.

No comments:

Post a comment