19 February 2010

Govt approves Rs 800 cr equity infusion into Air India : सरकार ने एयर इंडिया में 800 करोड़ रुपए की इक्विटी अर्क को मंजूरी दी : 19th February

हिन्दी अनुवाद:
सरकार ने 800 करोड़ रुपए के एकुइटी एयर इंडिया में डालने के लिए मंजूरी दे दी है। हालांकि, पहले, सरकार ने एयर इंडिया एकुइटी में 800 करोड़ रुपये डालने की मंजूरी दी थी। हालांकि, एयरलाइन को पिछले कुछ वर्षों मे भारी नुकसान उठाना पड़ा - वर्ष 2007-08 में 2,226 करोड़ रुपए का नुकसान और 2008-09 में लगभग 5,500 करोड़ रुपये नुकसान। एयर इंडिया पहले से ही 30 सबसे वरिष्ठ इन विमानों को उड़ान कमांडरों की सेवा अनुबंध समाप्त किया है और बहुत अधिक अदला बदली पर हैं। १८ फरवरी से प्रभावी 30 पायलटों की सेवा अनुबंध समाप्त हो गयी है। एयर इंडिया के फिलहाल अपने पोतावली मे छह बोइंग 747-400 और दो A-310 वाहक है। एयर इंडिया कार्गो एसबीयू प्रमुख अनीता खुराना ने कहा कि इसके अलावा, एयर इंडिया १ अप्रैल से एक स्वायत्त इकाई में अपने कार्गो कारोबार को संचय करने की योजना बनाई है।

English Translation:
The government approved Rs 800 crore equity infusion into Air India. However, previously, the government had approved equity infusion of Rs 800 crore in Air India. However, the airline has been incurring heavy losses for the past few years - Rs 2,226 crore loss in 2007-08 and about Rs 5,500 crore loss in 2008-09. Air India has already terminated the service contracts of 30 senior most commanders flying these planes and many more are on the chopping block. The service contract of 30 pilots have been terminated effective from February 18. Air India currently has six Boeing 747-400 and two A-310 cargo carriers in its fleet. Moreover, Air India has plans to hive off its cargo business into an autonomous unit by April 1 stated Air India Cargo SBU Head Anita Khurana.

No comments:

Post a comment