25 February 2010

SJVNL IPO put on hold until next fiscal : एस जे वी ऍन एल आईपीओ अगले वित्त वर्ष तक के लिए रुक गया : 25th February

हिन्दी अनुवाद:

प्रतिकूल बाजार की प्रतिक्रिया देखने के बाद सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड (स्ज्वन्ल) के आईपीओ सार्वजनिक पेशकश एनटीपीसी और आरईसी, प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव पर भारत सरकार द्वारा अवलम्बित किया गया है। श्री. एच के शर्मा, स्ज्वन्ल के अध्यक्ष तथा प्रबंध निदेशक ने कहा कि अपने आईपीओ के कुछ परिणाम के आधार पर आरईसी और एनटीपीसी के लिए देर हो रही है, बाजार में आईपीओ के अनुकूल नहीं है और अगले वित्त वर्ष की पहली छमाही में आ सकता है। इस आईपीओ के लिए, सरकार कंपनी में 7.5% की हिस्सेदारी का विनिवेश कर रही है और हिस्सेदारी की बिक्री से 1,200 करोड़ रुपये के करीब वृद्धि करने की उम्मीद है। कंपनी के बोर्ड ने आईपीओ के लिए ड्राफ्ट रेड हेरिंग सूचीपत्र (डी आर एच पी) को मंजूरी दे दी है।

English Translation:

After seeing an unfavourable market response to the Follow-on Public Offering (FPO) of NTPC and REC, the Initial Public Offering (IPO) of Satluj Jal Vidyut Nigam Ltd. (SJVNL) has been put on hold by the Government of India. Mr. H K Sharma, CMD of SJVNL said its IPO is slightly delayed on the grounds of the outcome to REC and NTPC, as the market is not favorable and the IPO could come in the first half of the next financial year. For this IPO, the government is disinvesting 7.5 % stake in the company and is expecting to raise around Rs. 1,200 crore from the stake sale. The Board of the company has also cleared the Draft Red Herring Prospectus (DRHP) for the IPO.

No comments:

Post a comment