2 February 2010

Tea import at higher prices pushes up bill : उच्च मूल्यों पर चाय आयात बिल को धक्का : 2nd February

हिन्दी अनुवाद:

2009 वर्ष के दौरान चाय आयात बिल मे 4.91 प्रतिशत द्वारा वृद्धि हुई जो 2008 की तुलना में और अधिक मात्रा मे उच्च कीमत पर आयात किया गया था। नवीनतम अवधि जिसके लिए सरकारी आंकड़े नवम्बर तक चाय बोर्ड के साथ उपलब्ध है, देश ने 2008 के अनुरूप अवधि मे 18.47 मिलियन किलोग्राम के खिलाफ 22.95 मिलियन किलोग्राम आयातित किया। 2008 मे 84.44 रुपये प्रति किलो की औसत कीमत का भुगतान किया, जोकि 78.97 रुपये से ऊपर थी। परिणामस्वरूप, आयात बिल मे 184.71 करोड़ रूपये से 193.79 करोड़ रूपये से वृद्धि हुई। देश ने लगभग 20 देशों से चाय आयातित की, कुछ व्यापार, कुछ स्रोतों का उत्पादन भी नहीं कर रहे है। मात्रा के अनुसार, सबसे बड़ी मात्रा 7.41 मिलियन किलोग्राम (2008: 7.28 मिलियन किग्रा) नेपाल से आई है, 5.46 मिलियन किलोग्राम (1.46 मिलियन किग्रा) विएत नाम से, 2.53 मिलियन किलोग्राम (3.27 मिलियन किलोग्राम) इंडोनेसिया से और 2.37 मिलियन किलोग्राम (3.19 मिलीं किलोग्राम) केन्या से।

English Translation :

Tea import bill during the year 2009 had increased by 4.91 per cent as against in 2008 as more volume was imported at a higher price. The latest period for which official data is available with the Tea Board till November, the country imported 22.95 million kg against 18.47 m. kg in the corresponding period of 2008. Rs 84.44 a kg was paid as average price, up from Rs 78.97 in 2008. As a result, the import bill increased to Rs 193.79 crore from Rs 184.71 crore. The country imported teas from about 20 countries, some trading, not producing sources as well. Volume-wise, the largest quantity of 7.41 m. kg (2008: 7.28 m. kg) came from Nepal, followed by 5.46 m kg (1.46 m. kg) from Viet Nam, 2.53 m. kg (3.27 m. kg) from Indonesia and 2.37 m. kg (3.19 m. kg) from Kenya.

No comments:

Post a comment