8 March 2010

Licenses for new banks under RBI guidelines : नए बैंकों के लिए लाइसेंस रिजर्व बैंक के दिशा निर्देशों के तहत : 8th March

हिन्दी अनुवाद:

पिछले हफ्ते शनिवार को वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने कहा कि रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया (आर बी आई) द्वारा निर्धारित लाइसेंस, नियमों और मानदंडों के तहत नए बैंकों के खोलने के लिए जारी किया जाएगा। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा आयोजित एक समारोह में उन्होंने कहा, हमने भारतीय रिजर्व बैंक को आश्वस्त किया है कि सरकारी उधार निजी ऋण के लिए उपयोग को प्रभावित नहीं करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार ने क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को चलाने के मजबूत करने की प्रक्रिया चलाई है। पिछले हफ्ते प्रणव मुखर्जी ने 2010-11 के लिए पेश बजट में कहा कि रिजर्व बैंक, निजी खिलाड़ियों को बैंकिंग लाइसेंस देने के लिए खुले है अगर वो साथ ही गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) सेंट्रल बैंक के मानदंडों से मिलते है। पिछले आठ वर्षों में, कोई नये बैंकों का गठन नही किया गया है।

English Translation:

Pranab Mukherjee, the finance Minister on Saturday last week said that the license would be issued for the opening of new banks under the norms and criteria laid down by the Reserve Bank of India (RBI). At a function organised by the RBI, he said, "We have assured RBI that government borrowings will not affect access to private credit". He also added that the process of consolidating the government run regional rural banks was underway. Pranab Mukherjee in the budget for 2010-11 presented last week, had said that the RBI was open to giving banking licenses to private players as well as non-banking finance companies (NBFCs) if they met the criteria of Central bank. In the past eight years, no new banks have been set up.

No comments:

Post a comment