1 April 2010

Rupee Strengthens Further Against US Dollar : रुपया अमेरिकी डॉलर खिलाफ मजबूत : 1st April

हिन्दी अनुवाद:

निर्यातकों द्वारा अमेरिकी मुद्रा की देरी से बिक्री के कारण रुपया ने अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 20 पैसे की वृद्धि प्राप्त की। यह सतत पूंजी प्रवाह के संकेत के बीच था। इंटरबैंक विदेशी मुद्रा(विदेशी मुद्रा) बाजार में रुपया 45.14/15 डॉलर पर थोड़ा कम हुआ और फिर 45.18 कम पर गिर गया। इसने बाद में पलटाव किया और एक डॉलर 44.89/90 पर स्थिर हुआ जबकि पिछले दिन देर से निर्यातकों द्वारा डॉलर की बिक्री से स्थानीय इकाई को पलटाव में मदद की। संस्थागत विदेशी निवेशक (एफआईआई) मार्च में रिकार्ड 4.1 अरब डॉलर से अधिक लगाया है। बीएसई सेंसेक्स एशियाई शेयरों में कमजोरी के बाद 62.40 अंक या 0.35% कम पर बंद हो गया। वैश्विक कच्चे तेल की 31 मार्च को लंदन में 82 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर कारोबार कर रहा था।

English Translation:

The rupee gained 20 paise against the US dollar on late selling of the American currency by exporters. It was in the midst of signs of sustained capital inflows. At the Interbank Foreign Exchange, (Forex) market the rupee resumed slightly lower at 45.14/15 a dollar and then fell to a low of 45.18. It later rebounded and settled the day at 44.89/90 a dollar from the previous day''s close while late dollar selling by exporters helped the local unit rebound. Foreign Instititutional Investors (FIIs) have injected a record over $4.1 billion in March. The Indian BSE benchmark Sensex ended lower by 62.40 points or 0.35% following weakness in Asian stocks. Global crude oil was trading above $82 a barrel in London on March 31.

No comments:

Post a comment