12 August 2010

RIL May Raise Fresh Funds Through Sale : आरआईएल बिक्री के माध्यम से नए फंड जुटा सकती है : 12th August

हिन्दी अनुवाद:

यह बताया गया है कि मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआईएल) ने अपने खजाने के शेयरों की बिक्री फिर से शुरू हो सकती है। पेट्रोलियम ट्रस्ट है, जो 120 करोड़ के आसपास देश की सबसे बड़ी निजी क्षेत्र की कंपनी में 3.7% हिस्सेदारी का प्रतिनिधित्व शेयर धारण करने के लिए निकट भविष्य में 40 लाख शेयरों के आसपास बेचने की संभावना है। रिलायंस औद्योगिक निवेश और होल्डिंग्स, रिलायंस की एक पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी, ट्रस्ट के लाभार्थी है। पेट्रोलियम ट्रस्ट आईपीसीएल के 2006 में आरआईएल के साथ विलय के बाद इन शेयरों प्राप्त किया था। कंपनी पहले से ही कोषागार शेयर बिक्री के तीन त्रंचेस के माध्यम से करीब 9300 करोड़ राशि उठाई है।

English Translation:

It’s been reported that Mukesh Ambani led Reliance Industries (RIL) may resume sale of its treasury shares. Petroleum Trust, which holds around 120 million shares representing 3.7% stake in the country’s largest private sector company, is likely to sell around 40 million shares in the near future. Reliance Industrial Investments and Holdings, a wholly owned subsidiary of RIL, is the beneficiary of the Trust. Petroleum Trust had received these shares following merger of IPCL with RIL in 2006. The company has already raised funds of around Rs 9,300 crore through three tranches of treasury share sale.

No comments:

Post a comment