26 September 2011

ITC Likely To Foray Into Deodorant Market : आईटीसी दुर्गन्ध बाजार में उतरने की संभावना है : 26-09-11

हिन्दी अनुवाद :

आईटीसी ने व्यक्तिगत देखभाल उत्पादों के विभाजन श्रेणी में फिअमा दी विल्स ब्रांड के संभावित विस्तार के साथ घरेलू दुर्गन्ध बाजार (दोस) में एक लक्ष्य में प्रवेश किया है। दोस बाजार में लगभग 900 करोड़ रुपए मूल्य है और 60 से अधिक खिलाड़ी है। वर्तमान कंपनी में प्रीमियम वर्ग में सुगंध के एस्सेंज़ा रेंज है, लेकिन डियो रेंज 100 रुपये और 150 रुपये है कि देश में एक लोकप्रिय क्षेत्र के बीच कीमत में कोई उपस्थिति नही है।

अन्य खिलाड़ियों कि इस क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण उपस्थिति है विप्रो, एचयूएल, केविनकेयर, वीएलसीसी, रीबॉक और नाइके और बड़े खुदरा विक्रेताओं के कई निजी लेबल ब्रांडों जैसे खेल ब्रांडों से अलग कर रहे हैं।

English Translation :

ITC's personal care products division is aiming a foray into the domestic deodorant (deos) market with possible extension of Fiama Di Wills brand in the category. The deos market is valued at about Rs 900 crore and has more than 60 players. At present company has the Essenza range of fragrances in the premium category, but has no presence in the deo range priced between Rs 100 and Rs 150 that is a popular segment in the country.

Other players that have a significant presence in this segment are Wipro, HUL, CavinKare, VLCC, apart from sport brands such as Reebok and Nike and several private label brands of large retailers.

No comments:

Post a comment