16 November 2011

Indian Metals & Ferro Alloys To Wind Up Its WOS : इंडियन मेटल्स एंड फेरो मिश्र अपनी डब्लूओएस को चलयेगी : 16-11-11

हिंदी अनुवाद:

मॉरीशस के कानूनों के तहत इंडमेट (मॉरीशस) - इंडियन मेटल्स एंड फेरो एलॉयज अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक (डब्लूओएस) को घुमाने का अनुमोदन प्राप्त हुआ है14 नवंबर, 2011 को आयोजित बैठक में बोर्ड ने इस के लिए मंजूरी दे दी है

हाल ही में, कंपनी के सहायक उत्कल कोयला को ओड़िसा में पर्यावरण एवं वन मंत्रालय, भारत सरकार से कोयला खनन के लिए अनुमोदन प्राप्त हुआ था

इंडियन मेटल्स एंड फेरो एलॉयज प्रभारी क्रोम (उच्च कार्बन फेरो क्रोम) सहित फेरो मिश्र धातु के उत्पादन में मुख्य रूप से शामिल है, और उड़ीसा के दो जिलों ठेरुबली और चौड्वार में स्थापित इसकी अपनी 157 एमवीए क्षमता की भट्ठी की दो इकाईयां है। कंपनी की कार्य प्रणाली एक 108 मेगावाट कैप्टिव थर्मल पावर संयंत्र ( चौड्वार में) और कैप्टिव क्रोमाइट खानों द्वारा समर्थित है।

English Translation:

Indian Metals & Ferro Alloys has received an approval to wind up its wholly owned subsidiary (WOS) - Indmet (Mauritius) under the laws of Mauritius. The board at its meeting held on November 14, 2011 has approved for the same.

Recently, the company’s subsidiary - Utkal Coal had received an approval for coal mining in Odisha from Ministry of Environment & Forests, Government of India.

Indian Metals & Ferro Alloys is primarily involved in the production of ferro alloys including charge-chrome (high-carbon ferro-chrome), and has an installed furnace capacity of 157 MVA in its two units in Therubali and Choudwar2 districts of Orissa. The company’s operations are supported by a 108 MW captive thermal power plant (at Choudwar) and captive chromite mines.

No comments:

Post a comment