12 June 2009

एनएमडीसी ने लौह अयस्क की कीमतों में कटौती स्थापित की- जून 12, 2009

हिन्दी अनुवाद:
राष्ट्रीय खनिज विकास निगम (एनएमडीसी) ने अपने लौह अयस्क की कीमतों को कम करने की योजना स्थापित की। लौह अयस्क की विवरण के लिए प्रचलित 40 प्रतिश्त की सम्पूर्ण लागत द्बारा इस्पात उत्पादन और कुछ उतार चढाव आने के कारण इस्पात निर्माताओं के मुल्ये को लंबे समय तक प्रभावित किया। इस्पात निर्माता, जो कच्चे माल की लागत और कम मांग में वृद्धि की वजह से प्रभावित थे, अब राहत की सांस ले सकते हैं।

एनएमडीसी में दिसम्बर 2008 के बाद, एक मध्यावधि कीमतों में 25 प्रतिश्त की कटौती हुई, गृह के लिए अधिक से अधिक कटौती में लौह अयस्क लम्प्स के मुल्ये द्बारा अन्य 20 प्रतिश्त पर $62 प्रति टन था।

लौह अयस्क की श्रेष्ठ कीमतों में इसी प्रकार योग्य अवस्था द्बारा अन्य 10 प्रतिश्त की $71 प्रति टन पर एक संचयी आधार, में जेएसडब्लू इस्पात, इस्पात उद्द्योग और एसार इस्पात, में इस प्रकार लाभ हुआ की लौह अयस्क की एनएमडीसी में प्रचलित 22 मिलियन की खरीद हुई।

English Translation:

National Mineral Development Corporation (NMDC) is set to reduce its iron ore prices. Iron ore that accounts for about 40 per cent of the total cost for steel production and any fluctuations in its price impacts the steel makers big time. The steel makers which were impacted due to the surge in raw materials costs and slackened demand, may now take a breather.

NMDC, after a mid term price cut of 25 per cent in December 2008, has room for further reduction in prices of iron ore lumps by another 20 per cent to $62 per tonne.

The prices of iron ore fines can also be trimmed by another 10 per cent to $71 per tonne on a cumulative basis, thus benefiting JSW Steel, Ispat Industries and Essar Steel, who purchase about 22 million tonnes of iron ore from NMDC.

No comments:

Post a comment