7 July 2009

मुचुअल फंड में क्रय की विधि- जुलाई 07, 2009

हिन्दी अनुवाद:
मुचुअल फंड (एमऍफ़) ने शुक्रवार 3 जुलाई 2009 को कुल 303.80 करोड़ के शेयर ख़रीदे, इसकी तुलना में वीरवार 2 जुलाई 2009 को आउटफ्लो 207.10 करोड़ रूपये था।

मुचुअल फंड का नेट इनफ्लो 3 जुलाई 2009 को नेट इनफ्लो 303.80 करोड़ रूपये था और एक परिणाम के लिए कुल 783.10 करोड़ रूपये के शेयर ख़रीदे गए और कुल 479.30 करोड़ के शेयर बेचे गए। बीएसई सेंसक्स में उस दिन 254.56 बिन्दु और 1.74 प्रतिश्त पर 14,913.05 की हानि हुई।

मुचुअल फंड में जुलाई 2009 को (उस समय 3 जुलाई 2009 तक) कुल 69.30 करोड़ शेयर के खरीददार बने।

मुचुअल फंड में इस महीने नेट मुल्ये 839.30 करोड़ रुपये के रूप में निवेशकों से धन का उपयोग करने के लिए प्राप्त मूल्य के शेयर खरीदे गए। रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर फंड ने हाल ही में संपन्न नए फंड की पेशकश में रुपये के संग्रह के लिए 2350 करोड़ रुपये के साथ एक मजबूत निवेशक प्रतिक्रिया को प्राप्त किया। नाम के रूप में, इस निधि में बुनियादी सुविधा क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित होता है।

नेट इनफ्लो के घरेलू इक्विटी मुचुअल फंड में मई 2009 को 1,930 करोड़ रूपये की हानि हुई, और यह 14 महीनो से सबसे उच्च स्तर पर है, और मंडली मुचुअल फंड की भारत मेंें अधिक से अधिक दुगने राशि के पहले चार महीनो के लिए 2009, के अतिरिक्त डेटा मंडली को उत्तपन किया गया।

English Translation:

Mutual funds (MFs) bought shares worth a net Rs 303.80 crore on Friday, 3 July 2009, as against an outflow of Rs 207.10 on Thursday, 2 July 2009.

MFs' net inflow of Rs 303.80 crore on 3 July 2009 was a result of gross purchases Rs 783.10 crore and gross sales Rs 479.30 crore. The BSE Sensex gained 254.56 points or 1.74% to 14,913.05 on that day.

MFs were net sellers of shares worth Rs 69.30 crore in July 2009 (till 3 July 2009).

Mutual funds bought shares worth a net Rs 839.30 crore in the month just gone by as they put funds received from investors to use. The recently concluded new fund offer of Reliance Infrastructure Fund received a strong investor response, with collections of Rs 2350 crore. As the name suggest, the fund is focused on the infrastructure sector.

Net inflows into domestic equity mutual funds rose to Rs 1,930 crore in May 2009, the highest in 14 months, and more than twice the amount in the first four months of 2009, according to data from the Association of Mutual Funds in India.

No comments:

Post a comment